Eupatorium Perfoliatum In Hindi [ कैसा भी बुखार का उत्तम होम्योपैथिक दवा ]

0
1452

Eupatorium Perfoliatum एक plant kingdom की होम्योपैथिक दवा है। इसका पौधा नार्थ अमेरिका और कनाडा में मिलता है जिससे यह दवाई बनती है।

शरीर पर Eupatorium Perfoliatum के प्रभाव

  1. यह दवाई मांसपेशियों, हड्डियों के दर्द को ठीक करती है, यदि यह दर्द किसी भी प्रकार के बुखार के कारण हो तो यह दवाई दर्द के साथ बुखार को भी ठीक करती है।
  2. यह दवाई लीवर पर प्रभाव डालती है, किसी बीमारी के कारण जब लीवर में सूजन आ जाती है तो यह दवाई उसे ठीक करती है।
  3. बुखार के कारण फेफड़ो में सूजन आ जाता है, फेफड़ो में कफ बनने लगता है तो यह दवाई बुखार के साथ फेफड़ों के सूजन और कफ को भी ठीक करती है, खांसी पर भी यह दवाई असर करती है।

कौन-कौन से लक्षणों में Eupatorium Perfoliatum दवाई लेनी है ?

  1. सिर दर्द बहुत अधिक होना, आँखे लाल होना
  2. बुखार के साथ सिर दर्द और चक्कर आना
  3. बुखार आने पर होठों के कोनों में फोड़ा हो जाना
  4. बार-बार प्यास लगना, जीभ पीला हो जाना
  5. लीवर में सूजन हो जाना, पित्ती की उल्टी होना
  6. सर्दी, जुकाम और फेफड़ों में कफ जमा होने के कारण खांसी आना
  7. किसी भी प्रकार के बुखार के दौरान बदन दर्द होना, सिर दर्द बने रहना
  8. मलेरिया, वाइरल बुखार, डेंगू, चिकनगुनिया आदि कई बीमारियों में जो बुखार होता है और बुखार के कारण जो समस्या होती है उन सब मे यह दवाई लाभदायक है
  9. कमर दर्द, पैर-हाथ में दर्द होना, जोड़ों में दर्द होना

Eupatorium Perfoliatum को इस्तेमाल करने की विधि :- Eupatorium Perfoliatum रोगों से बचाव के लिए बहुत ही फायदेमंद दवाई है। इसके सेवन से डेंगू, चिकनगुनिया नहीं होता है। Eupatorium Perfoliatum 200 CH में लेना है। इसकी दो बून्द रोज सुबह पीना है जब तक आस-पास चिकनगुनिया, डेंगू आदि बीमारियां फैली हुई है। अगर आस-पास कुछ मरीज हैं चिकनगुनिया या डेंगू के तो आप हफ्ते में एक दिन रविवार को इसकी दो बून्द पिए। इसके कोई side effect नहीं है।

यदि आपको डेंगू, चिकनगुनिया, वायरल बुखार या किसी भी प्रकार का बुखार हो गया है तो Eupatorium Perfoliatum 30 CH की दो बून्द हर एक घंटे में पीनी है जब तक बुखार उतर न जाए, उसके पश्चात् इसकी दो-दो बून्द दिन में तीन बार पिएं। एक सप्ताह तक इसका सेवन करने से चिकनगुनिया और डेंगू का बुखार अच्छे से उतर जाता है।

यदि आपको बुखार के साथ सर्दी, खांसी की समस्या है तो Eupatorium Perfoliatum 30 CH की दो-दो बून्द दिन में तीन बार पिए।

यदि आपका लीवर बढ़ गया है, उसमे सूजन आ गई है या बुखार के कारण पित्त की समस्या है तो Eupatorium Perfoliatum 30 में दो-दो बून्द दिन में तीन बार पिए, इसका सेवन एक सप्ताह तक करे।

यदि आपको कभी पहले चिकनगुनिया हुआ हो और दर्द अभी तक बना रहे तो Eupatorium Perfoliatum 200 में दो-दो बून्द दिन में तीन बार पिए, इसका सेवन एक महीने तक करे।

नोट :- Eupatorium Perfoliatum आपको किसी भी होम्योपैथी दूकान पर मिल जाएगी। इसका सेवन किसी भी प्रकार के बुखार तथा बुखार के कारण होने वाले दर्द को ठीक करने के लिए किया जाता है।