सर्दी और खांसी से बचाव के लिए होम्योपैथी इलाज [ Sardi Aur Khansi Se Bachne Ka Homeopathic Treatment ]

0
1604

सर्दियों में जो बीमारी सबसे अधिक आम है वह है सर्दी-खांसी। यह बीमारी सबसे अधिक बच्चो को होती है ठण्ड के मौसम में। ऐसे वक्त में सर्दी, खांसी, साँस लेने में समस्या आम बात है। ऐसे मौसम में जिन बातों का विशेष ध्यान रखने की आवश्यकता है वह है:-

  1. सर्दी के मौसम में कोशिश करे अधिक से अधिक गर्म रहने की, गर्म कपड़े अधिक पहने ताकि सर्दी लगने की संभावना कम हो जाये।
  2. सुबह-सुबह दो गिलास गुनगुना पानी पिए, ऐसे मौसम में देखा जाता है की कब्जियत की समस्या काफी अधिक हो जाती है तो ऐसे में गुनगुना पानी सुबह पीने से ये समस्या नहीं होती है। इसके साथ ही गुनगुना पानी पीने से शरीर में गर्माहट भी आती है।
  3. खाना खाने से पहले हाथ अच्छे से धोये ताकि बैक्टीरिया शरीर में न जाये और सर्दी खांसी की संभावना कम रहे।

होम्योपैथी दवाईयाँ सर्दियों में सर्दी-खांसी से बचाव के लिए

Echinacea Q :- यह दवाई डॉ. रेकवेग की जर्मनी की दवाई है। यह दवाई शरीर में इम्यून पावर को बढाती है और बच्चो में खासतौर पर यह असर करती है। सर्दियों में जिन्हे ठण्ड लग जाती है उसके लिए यह दवाई बहुत फायदेमंद है। इसकी 10 बून्द आधे कप पानी में डाल कर लेना है। यह दवाई आपको ठण्ड लगने से बचाएगी।

Aconite 30 CH :- अगर ठंड के मौसम में बाहर निकलने से अचानक सर्दी हो जाये, नाक बहने लगे तो यह दवाई बहुत ही लाभदायक है। अगर बच्चो को सर्दी हो गई है तो एक बून्द दिन में तीन से चार बार पिलाये और बड़ो को यह दवाई दो बून्द लेनी है दिन में तीन से चार बार। यह दवाई पीते ही अपना असर दिखाती है।

Kali bichromicum 30 CH और Allium Cepa 30 CH :- अगर आपको ठण्ड के कारण छीके आ रही है तो यह दवाई बहुत ही असरदार है। इसकी दो-दो बून्द दिन में तीन बार लेनी है और बच्चो को इसकी एक-एक बून्द ही पिलानी है। यह दोनों ही दवाई बहुत ही असरदार है नाक बहने और छीकों के लिए।

Biochemic Combination no 5 :- यह दवाई सर्दी के लिए बहुत ही असरदार दवाई है आप चाहो तो इसका प्रयोग भी कर सकते हो सर्दी-जुकाम के लिए। यह दवाई सर्दी के लिए असरदार है। इसकी तीन-तीन गोली दिन में तीन बार आधे कप गुनगुने पानी में मिला कर देना है बच्चो को और बड़ो को इसकी 6 गोली लेनी है।

Ipecac 30 CH :- यह दवाई बहुत ही असरदार है Cough के लिए। अगर आपको सर्दी की वजह से कफ की समस्या हो गई है तो यह दवाई उसे निकालने के लिए लाभदायक है। यह दवाई बच्चो और बड़ो दोनों के लिए लाभदायक है। अगर बच्चो को यह समस्या हुई है तो उन्हें 6 ch में यह दवाई दो-दो बून्द दिन में तीन बार देना है। अगर बड़ो को कफ की समस्या है तो 30 ch में दो बून्द दिन में तीन बार दे।

Antium Tart 30 CH :- यह दवाई बहुत ही असरदार है कफ जमने की समस्या में, अगर गले से घरघराहट की आवाज आती है और बच्चो को यह समस्या अधिक होती है तो यह दवाई लेनी है। बड़ो को दो बून्द दिन में तीन बार लेना है 30 ch में और बच्चो को 6 ch में देना है।

Biochemic combination no 6 :- यह दवाई खांसी के लिए ही बनाई गई है और बहुत ही लाभदायक है। इसकी तीन-तीन गोली दिन में तीन बार गुनगुने पानी में मिला कर बच्चो को देना है और बड़ो को इसकी छः-छः गोली लेनी है।

Wheezal Mixture Syrup :- यह दवाई बहुत ही असरदार है कफ की समस्या के लिए। यह हर तरह के कफ के लिए लाभदायक है। बच्चो को यह दवाई 3-5 ml दिन में तीन बार देना है और बड़ो को यह दवाई 10 ml दिन में तीन बार लेनी है।

नोट :- ऊपर की दवाइयों को लक्षणों के हिसाब से लेना है, अगर आपको सिर्फ सर्दी है और खांसी या कफ नहीं है तो केवल सर्दी की दवाई ही लें। यह सभी दवाईयाँ आपको होम्योपैथी दूकान पर आसानी से मिल जाएंगी।