सूखी खांसी या कफ खांसी के लिए होम्योपैथिक सिरप [ Sukhi Ya Gili Khansi Ka Homeopathic Syrup ]

Category:

Description

जब हमारे शरीर पर कीटाणु या विषाणु हमला करते है तब हमारे शरीर में अलग-अलग तरह की बीमारियां हो जाया करती है। खासतौर पर जब यह कीटाणु हमारे श्वसन-तंत्र पर हमला करते है तो इन कीटाणुओं की वजह से वहाँ पर इन्फेक्शन हो जाता है, जिस कारण हमारे श्वसन-तंत्र और फेफड़ों में बलगम जमा हो जाता है। इससे हमे गले की कई समस्याएं हो जाती है जिनमे से खांसी भी एक है। हमारा शरीर खांसी के जरिये अंदर का कफ या बलगम निकालने की कोशिश करता है। खांसी एक आम समस्या जो सभी को कभी न कभी होती ही रहती है। खांसी ठीक करने के लिए कई सारी दवाइयों का प्रयोग किया जाता है लेकिन वह ठीक नहीं होती, खासतौर पर एलर्जी के कारण जो खांसी होती है वह जल्दी ठीक नहीं होती।

खांसी के साथ कई बार बलगम, कफ निकलता है, जब शरीर से ये कफ खत्म हो जाता है तो कई बार हमे सूखी खांसी की समस्या भी हो जाती है। होम्योपैथिक में भी कई सारी दवाइयां हैं खांसी को ठीक करने के लिए जो बिना किसी भी side-effect के असर करती है और पूरी तरह खांसी ठीक करने में मददगार है:-

Alpha Coff Cough Syrup :- यह दवाई सूखी और गीली दोनों प्रकार की खांसी के लिए बहुत ही असरदार है। आपको दोनों में से कोई भी खांसी हो यह दोनों में काम आती है और आप इसका सेवन कर सकते है। यह WSI कम्पनी की दवाई है जोकि एक बहुत ही अच्छी कम्पनी है होम्योपैथिक दवाइयों के लिए।

यह दवाई कई सारी अन्य दवाइयों से मिल कर बनी है जो निम्न है:-

Rumex crispus, Justicia adhatoda, Ipecacuanha, Spongia tosta, Sticta pulmonaria, Antimonium tartaricum, Coccus cacti, Drosera rotundifolia, Balsam tolu, Senega.

Rumex crispus :- यह दवाई सूखी खांसी के लिए बहुत असरदार दवाई है। यदि आपकी खांसी पंखे की हवा से बढ़ जाती है या लेटने पर खांसी होने लगती है तो यह दवाई बहुत फायदेमंद है।

Justicia adhatoda :- यह दवाई सूखी खांसी व गीली खांसी दोनों के लिए बहुत ही लाभ करती है।

Ipecacuanha :- यदि आपकी छाती में बहुत अधिक कफ जमा है और जिस कारण खांसने पर सीटी जैसी आवाज आती है तो यह दवाई बहुत ही असरदार है। यह दवाई खांसी के कारण आने वाली उल्टी के लिए भी लाभदायक है।

Spongia tosta :- यह दवाई भी सूखी खांसी के लिए बहुत ही असरदार है।

Sticta pulmonaria :- गले में कुछ फंसा हुआ सा महसूस हो और काफी खांसी आये तो यह दवाई बहुत ही असरदार है।

Antimonium tartaricum :- यदि कफ नाक में जमा होता है जिस कारण अच्छे से साँस नहीं लिया जाता है तो यह दवाई उस कफ को निकालने में बहुत मदद करता है।

Balsam tolu :- यह दवाई सूखी खांसी में आराम दिलाने में बहुत ही कारगर है।

इस Alpha-Coff cough syrup में ये सारी दवाइयां मिली हुई है जोकि एक बहुत ही अच्छा मिश्रण है खांसी की हर प्रकार की समस्या के लिए चाहे वह कफ वाली खांसी हो या बिना कफ की, सूखी हो या गीली। यह कफ को निकालने में मददगार है।

Alpha-Coff cough syrup लेने की विधि :- यदि बड़े लोगों को किसी भी प्रकार की खांसी होती है चाहे वह सूखी खांसी हो या गीली खांसी तो दिन में चार बार एक-एक ढक्कन पीना है। यदि बच्चो को किसी भी प्रकार की खांसी होती है तो उन्हें आधा-आधा ढक्कन दिन में चार बार पिलाना है। अगर खांसी लम्बे समय तक रहती है या एलर्जी के कारण होती है तो आपको एक-एक ढक्कन दिन में दो बार एक महीने तक पीनी है। यह दवाई अच्छी तरह से खांसी ठीक करने के लिए काफी है। इसे आपको अपने घर में रखना चाहिए ताकि कभी भी किसी सदस्य को खांसी की समस्या हो जाये तो जल्दी ठीक हो सके। यह दवाई किसी भी होम्योपैथिक दूकान पर 99 रुपए में मिल जाएगी, यह ऑनलाइन भी मिल जाएगी।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “सूखी खांसी या कफ खांसी के लिए होम्योपैथिक सिरप [ Sukhi Ya Gili Khansi Ka Homeopathic Syrup ]”