Lumbago Treatment In Homeopathy – कमर दर्द

0
983

कमर की पेशियों में वात का आक्रमण होने पर वहाँ पर दर्द होने लगता है, ऐसा प्रायः बारिश में भीग जाने पर या ठण्डी हवा लगने से होता है।

मैकरोटिनम 3x- डॉ० क्लार्क के कथनानुसार यह इस रोग की बहुत ही अच्छी दवा है, खासकर जब कमर की पेशियों में दर्द हो और दर्द की वजह से नोंद न आती हो ।

रसटॉक्स 200- वर्षा-पानी में भीगने या ठण्डी हवा लगने के कारण अगर कमर में दर्द हो तो यह दवा अच्छा लाभ दिखाती है । यह इस रोग की मुख्य दवा है ।

एकोनाइट 30- रोग की प्रथमावस्था में दें, खासकर जब ठण्डी व सूखी हवा लगकर रोग पैदा हुआ हो ।

एण्टिमोनियम टार्ट 30- हिलने-डुलने पर दर्द का बढ़ना, ठण्डा पसीना, पीठ की हड्डियों और कमर की हड्डियों में दर्द महसूस होने पर इस दवा का सेवन करने पर आशाजनक लाभ होता हैं ।

सिमिसिफ्यूगा 3,30- बहुत दर्द, बेचैनी, नीद न आना और खासकर कमर की पेशियों में वात होने पर इसका प्रयोग करना चाहिये ।

आर्निका 1M- चोट लगने के कारण कमर में दर्द हो तो इस दवा का सेवन करें, अवश्य लाभ होगा ।

सल्फर 200– रोग पुराना होने पर बीच-बीच में इस दवा का प्रयोग अवश्य करते रहना चाहिये ।

Previous articleCramps Treatment In Homeopathy
Next articleTetanus Treatment In Homeopathy – टिटेनस
जनसाधारण के लिये यह वेबसाइट बहुत फायदेमंद है, क्योंकि डॉ G.P Singh ने अपने दीर्घकालीन अनुभवों को सहज व सरल भाषा शैली में अभिव्यक्त किया है। इस सुन्दर प्रस्तुति के लिए वेबसाइट निर्माता भी बधाई के पात्र हैं । अगर होमियोपैथी, घरेलू और आयुर्वेदिक इलाज के सभी पोस्ट को रेगुलर प्राप्त करना चाहते हैं तो हमारे फेसबुक पेज को अवश्य like करें। Like करने के लिए Facebook Like लिंक पर क्लिक करें। याद रखें जहां Allopathy हो बेअसर वहाँ Homeopathy करे असर।